Explore

Search

July 25, 2024 10:26 pm

Our Social Media:

IAS Coaching
लेटेस्ट न्यूज़

साय मंत्रिमंडल में पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल को मिलने वाला हैं महत्वपूर्ण दायित्व!

बिलासपुर. लोकसभा चुनाव निपट गए। नरेन्द्र मोदी ले दे कर एनडीए में शामिल सहयोगी दलों की मदद से तीसरी बार  प्रधानमंत्री बनने में सफल हो गए। जिस उत्तर प्रदेश से भाजपा को अभिमान और गर्व होता था वही से भाजपा गच्चा खा गई वो तो मप्र और छत्तीसगढ़ की 4o में से 39 सीटों पर मिली सफलता ने भाजपा की लाज रख ली हालांकि 39सीटे हासिल करने के बाद भी भाजपा बहुमत से काफ़ी दूर रह गई लेकिन सरकार गठन के समय भाजपा ने उस छत्तीसगढ़ की घोर उपेक्षा कर दी जहाँ से भाजपा को झोली भर भर कर वोट मिले. एक नये नवेले सांसद को राज्य मंत्री बनाकर आठ बार के विधायक बृजमोहन अग्रवाल को मंत्री बनाने से परहेज करना यह दिखाता हैं कि भाजपा में किस तरह का माहौल हैं. आज  स्पष्ट हो जायेगा कि बृजमोहन अग्रवाल सांसद और विधायक में से किस पद से स्तीफा देते हैं जाहिर हैं मोदी जी को सरकार चलाने एक एक वोट कीमती हैं इस लिहाज बृजमोहन को सांसद बने रहने और विधायक पद से इस्तीफा देने पार्टी का आदेश होगा और यह भी स्पष्ट हैं कि बृजमोहन जिंदगी भर पार्टी लाइन से कभी बाहर नहीं गए इसलिए स्वभाविक हैं वे विधायक पद ही छोड़ेंगे. उनके विधायक पद से इस्तीफा देने का कई विधायक बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं ताकि वे मंत्री बन सके. कई पूर्व हो चुके मंत्री भी 6 माह से इसी दिन का इंतजार कर रहे हैं. अजय चंद्राकर, राजेश मूडत, धर्मलाल कौशिक, रेणुका सिँह आदि का पता तो नहीं लेकिन बिलासपुर विधायक अमर अग्रवाल के दिन जरूर बहुरने वाले हैँ. अमर अग्रवाल को जो लोग नजदीक से जानते हैं उन्हें पता हैं कि अमर अग्रवाल भी पार्टी लाइन से कभी बाहर नहीं गए और न ही पार्टी के निर्णयों के खिलाफ कभी सार्वजनिक बयानबाजी किया बल्कि पार्टी ने उन्हें जब जब जो जो जो दायित्व सौपा उसे पुरी ईमानदारी के साथ पूरा करते हुए बेहतर रिजल्ट भी दिया. वरिष्ठ मंत्री रहने के बाद भी साय मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किये जाने के बाद भी अमर अग्रवाल ने उफ़ तक नहीं किया और पार्टी द्वारा सौपे गए जिम्मेदारी को निभाते रहे. लोकसभा चुनाव में बिलासपुर विधानसभा से सर्वाधिक 53 हजार वोटो की भाजपा को बढ़त मिलना यह दर्शाता हैं कि अमर अग्रवाल ने चुनाव में पार्टी के लिए पुरे शिद्दत के साथ काम किया हैं. भाजपा को मिली यही बढ़त अमर अग्रवाल को मंत्री बनाने का रास्ता खोल दिया हैं. नगरीय प्रशासन, राजस्व, वाणिज्यक कर, स्वास्थ्य जैसे महत्वपूर्ण विभागों का सफलता पूर्वक दायित्व संभाल चुके अमर अग्रवाल के समर्थको, बिलासपुर के पार्टी के लोगों और शहरवासियो को भी साय मंत्रिमंडल के विस्तार की बेसब्री से प्रतीक्षा हैं.वैसे भी जिस तरह बृजमोहन अग्रवाल को केंद्र में मंत्री नहीं बनाये जाने से प्रदेश के एक बड़े कांग्रेसी नेता सर्वाधिक दुखी हैं उसी तरह बिलासपुर के कई कांग्रेस नेता भी चाहते हैं कि अमर अग्रवाल को साय मंत्री मण्डल में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिले.

CBN 36
Author: CBN 36

Leave a Comment

Read More

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर
best business ideas in Hyderabad